FeaturedGlobalUnited States News

अमेरिका ने ब्रिटेन के साथ मिलकर लिया ये फैसला, इजरायल को फायदा, हमास को बड़ा नुकसान

इजरायल और हमास जंग के बीच अमेरिका ने एक बड़ा ऐलान किया है. अमेरिका ने ब्रिटेन के साथ मिलकर हमास और फिलिस्तीन का समर्थन करने वाले लोगों और संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है.

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा कि अमेरिका ने ब्रिटेन के साथ मिलकर ऐसे लोगों और संगठनों पर बैन लगा दिया है, जो हमास और फिलिस्तीन का समर्थन कर रहे हैं. हम आतंक को पोषित करने वाले इन स्रोतों को नष्ट करने के लिए हमारे साझेदारों के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे.

सात अक्टूबर के बाद से अमेरिका का हमास पर तीसरा वार

अमेरिका ने सात अक्टूबर की घटना के बाद से हमास को निशाना बनाकर यह तीसरा बैन लगाया है. इससे पहले अमेरिका ने फिलिस्तीन के संगठन से जुड़े अकरम-अल-अजौरी को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया था. अजौरी अल-कुद्स ब्रिगेड की मिलिट्री विंग के नेता हैं.
इसके अलावा अमेरिका ने हमास को मदद पहुंचाने वाले सात लोगों और दो संगठनों पर भी प्रतिबंध लगाया था.

7 अक्टूबर से जारी है जंग

सात अक्टूबर को हमास ने गाजा पट्टी से इजरायल पर 5 हजार से ज्यादा रॉकेट दागकर हमला कर दिया था. इसके तुरंत बाद इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने हमास के खिलाफ जंग का ऐलान कर दिया था. इन दो हफ्तों की जंग में गाजा पट्टी पूरी तरह से तबाह हो गई है.

इजरायल और हमास जंग में मरने वालों फिलिस्तीनी नागरिकों की संख्या 10 हजार से ज्यादा हो गई है. अब तक गाजा के 23 लाख में से आधे नागरिकों ने अपना घर छोड़ दिया है. हमास के लड़ाकों ने 200 से ज्यादा नागरिकों को बंधक बनाकर रखा है. हमास का दावा है कि इजरायली बमबारी में 50 से ज्यादा बंधकों की मौत हो गई है. 



#अमरक #न #बरटन #क #सथ #मलकर #लय #य #फसल #इजरयल #क #फयद #हमस #क #बड #नकसन