FeaturedGlobal

‘किसी के पिता तक नहीं जाना चाहिए…’, अजय राय को अखिलेश यादव की नसीहत

यूपी के हरदोई जिले पहुंचे समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला. अजय राय के अपने बयान पर कायम रहने को लेकर अखिलेश ने कहा कि कुछ लोग बुजुर्ग होते हैं, उनके संस्कार गलत होते हैं. कभी किसी के पिता और मां-बहन के बारे में बात नहीं करनी चाहिए. यही बात मुख्यमंत्री जी ने भी सदन में कही थी. मैंने उन्हें संस्कारों की याद दिलाई थी कि किसी के पिता तक नहीं जाना चाहिए. उधर, इटावा जिले मुख्यमंत्री कमलनाथ को लेकर किए गए सवाल पर सपा नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि यह छुटभैया नेता हैं. इनके बारे में हमें कुछ नहीं कहना है.

अखिलेश ने आगे कहा, जो लोग गलत होते हैं वह कमी निकालते हैं. कांग्रेस साफ करे कि बीजेपी को हराने के लिए गठबंधन करना है कि नहीं. उनकी पार्टी के सबसे बड़े नेता ने बात की है. हमने भी कहा है कि गठबंधन करना हो तो करें नहीं तो साफ करें. मध्य प्रदेश में हमारे लोगों को रात भर बैठाया गया, बातचीत हुई और कांग्रेस अपने वादे से मुकर गई.

‘उन पर काम का लोड बहुत होता है’

अखिलेश यादव हरदोई के राजकीय इंटर कॉलेज में लोक जागरण अभियान के तहत समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करने पहुंचे थे. सभा स्थल में पत्रकारों से बात करते हुए कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला. कहा, देखिए कभी-कभी कुछ लोग बुजुर्ग होते हैं और उन पर काम का लोड बहुत होता है. इसलिए कई बार कुछ बातें निकल आती हैं. हमारे लिए यह नई बात नहीं है. 

‘एक बार मुख्यमंत्री जी ने भी यह बात कही थी’

अखिलेश ने कहा, सब जानते हैं कि जो लोग खिसिया जाते हैं, लोग गलत होते हैं, अपनी कमी छुपाना चाहते हैं, वो इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते हैं. बड़ी जिम्मेदारी से कहता हूं कि मैं भी कभी गुस्से में हूं तो भगवान मुझे इतनी शक्ति दे कि मैं किसी के पिता और मां-बहन के बारे में न बोलूं. एक बार मुख्यमंत्री जी ने भी यह बात कही थी तो मैं मुख्यमंत्री जी को केवल संस्कारों की याद दिलाई थी. 

‘जो खिसिया जाते हैं, वह इस सीमा तक चले जाते हैं’

ये बीजेपी का फैलाया हुआ प्रोपेगेंडा है. देश के होम मिनिस्टर ने भी अपने कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देते समय कुछ बात कही थी. वही प्रोपेगेंडा चल रहा है. उसका जवाब मैं नहीं देता हूं लेकिन इतना जानता हूं जो खिसिया जाते हैं, वह इस सीमा तक चले जाते हैं. 

‘हमें बुलाया ही क्यों था अगर गठबंधन नहीं करना था’

अभी हमारे पास कांग्रेस पार्टी के सबसे बड़े नेता के माध्यम से किसी का संदेश आया है. अगर वो कुछ बात कह रहे हैं तो मुझे माननी पड़ेगी. लेकिन एक बात कहना चाहता हूं कि हमें बुलाया ही क्यों था अगर गठबंधन नहीं करना था. इसका तो जवाब कोई दे दे हमें.  

‘हमसे साजिश और षड्यंत्र न करें, साफ बता दें’

अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस के लोग बोल दें कि समाजवादी पार्टी से गठबंधन नहीं करना है, हमसे साजिश और षड्यंत्र न करें. हमें धोखा न दें. हमें साफ बता दें ताकि हम अपनी तैयारी करें, जिससे बीजेपी को हरा सकें. राम मनोहर लोहिया और नेताजी कह चुके हैं कि जब कांग्रेस सबसे ज्यादा कमजोर होगी तो जरूरत होगी और आपको बुलाएंगे. आप मना मत करना और कांग्रेस का साथ देना.

#कस #क #पत #तक #नह #जन #चहए #अजय #रय #क #अखलश #यदव #क #नसहत