क्या CM केजरीवाल आज कोर्ट में करेंगे बड़ा खुलासा? पत्नी सुनीता के दावे से बढ़ी सियासी हलचल

0
19

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज शराब घोटाले के मामले में कोर्ट के सामने बड़ा खुलासा करने वाले हैं. ये दावा किसी और ने नहीं, बल्कि खुद उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल ने किया है. दरअसल, आज ईडी की रिमांड खत्म हो रही है.

सुनीता ने सवाल पूछा है कि ED ने उनके घर रेड मारी. महज 73 हजार रुपए मिले तो सो कॉल्ड शराब घोटाले का पैसा आखिर है कहां? इतना ही नहीं अरविंद केजरीवाल की पत्नी ने यह भी कहा है कि दिल्ली CM अपने दावों को लेकर सबूत भी पेश करेंगे. सीएम केजरीवाल के इस खुलासे से पहले आइए इस केस से जुड़े सियासी अपड़ेट जान लेते हैं.

तरीका और शैली केजरीवाल जैसी ही

दरअसल, सीएम केजरीवाल की पत्नी सुनीता ने वीडियो जारी कर कहा कि केजरीवाल बीमार हैं. उनकी सेहत गिर रही है. लेकिन वह डरेंगे नहीं. केजरीवाल एक खुलासा करेंगे. केजरीवाल दिल्ली के लोगों को लेकर चिंतित हैं. वीडियो बनाने का तरीका, बोलने की शैली, सबकुछ अरविंद केजरीवाल जैसा ही था.

इमोशनल टच देने की चल रही है तैयारी

सुनीता केजरीवाल के वीडियो जारी करने के बाद यह सवाल उठने लगे कि हाईकोर्ट से केजरीवाल को रिमांड और गिरफ्तारी पर तुरंत राहत नहीं मिली है. क्या आगे अब अरविंद केजरीवाल की जगह सुनीता केजरीवाल ही सियासी कुर्सी संभाल सकती हैं? हालांकि, सूत्रों की मानें तो ऐसा कुछ नहीं होने वाला है. इसके पीछे का तर्क यह है कि जनता ने अरविंद केजरीवाल को चुना था ना कि किसी और को. यह सारी कवायद कैंपेन के जरिए इमोशनल फैक्टर बनाने की है.

हेमंत ने कल्पना नहीं चंपई को चुनाव

दरअसल, लालू-राबड़ी वाला मॉडल आज के राजनीतिक समय में काम नहीं कर सकता है. इसका उल्टा प्रभाव पड़ सकता है. झारखंड में जब हेमेंत सोरेन को पकड़ा गया तो कल्पना को बागडोर देने की जगह चंपई को शपथ दिलाई गई. इसी तरह केजरीवाल ही मुख्यमंत्री बने रहेंगे. हालांकि, सुनीता केजरीवाल राजनीति गलियारों और पब्लिक डोमेन में बढ़ती दिखेंगी.

जेल से ही कब तक चलेगी सरकार?

इस वक्त सुनीता केजरीवाल दिल्ली की सियासत के चक्रव्यूह के एकदम केंद्र में हैं. जहां दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी रोज नए-नए तरीकों से विरोध प्रदर्शन में जुटी है. वहीं, सुनीता कोर्ट के जरिए न्यायिक लड़ाई लड़ने में लगी हैं. AAP ने साफ किया कि जेल से ही सरकार चलेगी. आम आदमी पार्टी बड़ी कानूनी लड़ाई लड़ने की तैयारी कर रही है.

सुनीता की सॉफ्ट लॉन्चिंग कर रही AAP?

अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद चर्चा है कि मुख्यमंत्री पद में फेरबदल हो सकता है. कयास इसलिए हैं, क्योंकि केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद से पार्टी सुनीता की सॉफ्ट लॉन्चिंग करती दिख रही है. सूत्र कहते हैं कि केजरीवाल कस्टडी में हैं. तिहाड़ जेल भेजा जा सकता है, क्योंकि सिसोदिया और संजय के केस में यही हुआ. तो आम आदमी पार्टी के लिए सुनीता इमोशनल फैक्टर के तौर पर काम कर सकती हैं.

चुनाव में पति के साथ किया था प्रचार

सुनीता केजरीवाल पति अरविंद की तरह IRS अधिकारी रही हैं. चुनाव में पति के साथ गलियों में सपरिवार प्रचार कर चुकी हैं. अभी सुनीता केजरीवाल के चेहरे और संदेश का उपयोग भावनात्मक समर्थन जुटाने के लिए पार्टी करने में जुटी है. दावा है कि आगे केजरीवाल से जुड़े और संदेश/चिट्ठी सुनीता केजरीवाल ही पढ़ती नजर आ सकती हैं.

वंशवाद का ठप्पा लगने का भी डर!

तो क्या सुनीता केजरीवाल को सीएम पद की कुर्सी केजरीवाल नहीं देंगे? सूत्र कहते हैं कि ऐसा फिलहाल इसलिए संभव नहीं, क्योंकि पति पहले से भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार हैं. अगर पत्नी को सीएम पद दे दिया तो वंशवाद का ठप्पा भी लग जाएगा. आम आदमी पार्टी के भीतर से खबर ये है कि आतिशी हों सौरभ भारद्वाज या राज्यसभा सांसद संदीप पाठक. सबका रोल प्लान बी के तहत तय किया गया है. बता दें कि सो कॉल्ड शराब घोटाले की जांच में ईडी ने ढाई सौ से ज्यादा रेड मारी है. एजेंसी घोटाले का पैसा खोज रही है.

(रिपोर्ट: आज तक ब्यूरो)

#कय #कजरवल #आज #करट #म #करग #बड #खलस #पतन #सनत #क #दव #स #बढ #सयस #हलचल