FeaturedGlobal

दिल्ली: छठ पर्व नजदीक आते ही यमुना नदी को लेकर सियासत तेज, बीजेपी ने केजरीवाल पर लगाए ये आरोप

छठ पर्व नजदीक आने के साथ ही यमुना नदी पर एक बार फिर सियासत तेज हो गई है. दिल्ली बीजेपी के दो बड़े नेता कलंदीकुज यमुना घाट पर दौरा करने पहुंचे. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा साथ ही  बीजेपी सांसद मनोज तिवारी नाव में सवार होकर यमुना के जल स्तर का जायजा लेने पहुंचे. इस दौरान बीजेपी के दोनों नेताओं ने मौजूद अधिकारियों से यमुना के झाग को दिखाते हुए पूछते हैं कि ये क्या है? ये प्रदूषण नहीं तो और क्या है? 

वीरेंद्र सचदेवा ने केजरीवाल सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जब यमुना हरियाणा से दिल्ली आती है तो साफ होती है, लेकिन यहां आने के बाद स्थिति खराब हो जाती है. केजरीवाल सरकार ने 8 हजार करोड़ रुपए यमुना जी को ट्रीट करने में खर्च किया, उसका क्या हुआ ? 2021 में कहा हम यहां आकर पूरी मंत्रिमंडल के साथ यमुना में डुबकी लगाएंगे. कब लगाएंगे ? इसमें पशु पानी पी रहे हैं उनकी सेहत पर इसका क्या असर होगा सोचिए. वीरेंद्र सचदेवा ने कहा की 1052 कॉलोनी दिल्ली में ऐसी हैं जिसमे सीवर नहीं है, वो सारा अनट्रीटेड पानी यमुना में आता है.

वहीं, दिल्ली बीजेपी के पूर्व सांसद मनोज तिवारी ने यमुना की हालत दिखते हुए कहा कि यहां गाय, भैंस पानी पी रही है, आपके सामने उसी गाय, भैंस का दूध आपके घर में आएगा, आपके बच्चे पियेंगे तो इनपर क्या असर पड़ेगा ? इसलिए दिल्ली की औसत आयु कम हो रही है.

कई बार केजरीवाल ने किया वादा 
बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने गिनते हुए कहा की कई बार केजरीवाल सरकार यमुना की सफाई को लेकर वादा कर चुकी है. पहला वादा 2013 के इलेक्शन में केजरीवाल सरकार ने किया था कि 5 साल में डुबकी लगाएंगे. जो मानक 5 हजार होने चाहिए वो 2 लाख हैं. केजरीवाल जी क्या आपकी बात सिर्फ मीडिया और दिल्ली के लोगों को भ्रमित करने के लिए होती हैं ? इनकी नियत कहीं से भी स्वच्छता की नही है. ये पानी आगे मथुरा, वृंदावन होते हुए बहुत आगे तक जाता है. सोचिए क्या पहुंच रहा है वहां के लोगों के पास.

यमुना नदी में बढ़ा प्रदूषण का लेवल 
यमुना नदी में हर साल दिवाली से पहले प्रदूषण का लेवल बढ़ने लगता है. सफेद चादर दिल्ली आईटीओ, कलंदीकुंज पर नजर आती है और इसी प्रदूषित यमुना की चादर में छठ का पर्व मनाया जाता है. पूर्वांचल के लोग ये पर्व धूमधाम से मनाते हैं. लाखो लोग दिल्ली में इस पर्व को मानते हैं. इस बार भी दिवाली से पहले यमुना नदी में टॉक्सिस का लेवल बढ़ने लगा है, जिसके कारण यमुना में सफेद झाग दिखाई दे रहा है.

#दलल #छठ #परव #नजदक #आत #ह #यमन #नद #क #लकर #सयसत #तज #बजप #न #कजरवल #पर #लगए #य #आरप