FeaturedGlobal

‘यूक्रेन को लंबी दूरी की मिसाइलें देकर गलती कर रहा US’, चीन में अमेरिका पर भड़के पुतिन

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध में अमेरिका गहराई तक उतरता जा रहा है. साथ ही कहा कि अमेरिका यूक्रेन को लंबी दूरी की ATACMS मिसाइलें प्रदान करके गलती कर रहा है. पुतिन ने चीन की यात्रा के दौरान एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को यूक्रेन के बारे में कुछ विस्तार से जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि बाहरी कारकों और सामान्य खतरों ने रूस-चीनी सहयोग को मजबूत करने में मदद की है.

रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि आर्मी टैक्टिकल मिसाइल सिस्टम यूक्रेन को देकर अमेरिका ने कीव की पीड़ा को और भी बढ़ा दिया है. पुतिन ने कहा कि ऐसा करना यह निश्चित रूप से यूक्रेन को नुकसान पहुंचाने वाला है. साथ ही ये एक अतिरिक्त खतरा पैदा करेगा. साथ ही कहा कि हम निश्चित रूप से इन हमलों को विफल करने में सक्षम होंगे, क्योंकि युद्ध तो युद्ध है.

पुतिन ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि यह अमेरिका की एक और गलती है. यूक्रेन ने बार-बार वाशिंगटन से एटीएसीएमएस की मांग की थी ताकि वह रूस के कब्जे वाले क्षेत्र में आपूर्ति लाइनों, हवाई अड्डों और रेल नेटवर्क पर हमला करने और उन्हें बाधित करने में मदद कर सके. लेकिन ये एक बड़े पैमाने की गई गलती है. अमेरिका इस संघर्ष में अधिक से अधिक व्यक्तिगत रूप से शामिल होता जा रहा है और किसी को यह नहीं कहना चाहिए. उनका इससे कोई लेना-देना नहीं है. 

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका ने इज़राइल और फिलिस्तीनियों के बीच हिंसा के विस्फोट के जवाब में भूमध्य सागर में 2 विमान वाहक भेजे थे और कहा कि उन्होंने किंजल हाइपरसोनिक मिसाइलों के साथ रूसी विमानों को काला सागर पर गश्त करने का आदेश दिया था. पुतिन ने कहा कि यह अच्छा है कि पश्चिम शांतिपूर्ण तरीकों से यूक्रेन संकट को हल करने की आवश्यकता के बारे में बात करना शुरू कर रहा है. 

रूस ने लंबे समय से कहा है कि वह बातचीत करने को तैयार है, लेकिन केवल तभी जब यूक्रेन नए सच को स्वीकार करे. जिसका अर्थ है कि मॉस्को का यूक्रेन के छठे हिस्से से अधिक पर कब्ज़ा है.

#यकरन #क #लब #दर #क #मसइल #दकर #गलत #कर #रह #चन #म #अमरक #पर #भडक #पतन