India Today Conclave 2024: क्या केंद्र सरकार भी बांट रही है रेवड़ी? निर्मला सीतारमण ने दिया जवाब

0
23

राजधानी नई दिल्ली के ताज पैलेस होटल में दो दिवसीय इंडिया टुडे कॉन्क्लेव (India Today Conclave 2024) आयोजित किया जा रहा है. इस कॉन्क्लेव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, विदेश मंत्री एस जयशंकर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, इंफोसिस को-फाउंडर एन आर नारायण मूर्ति, सुधा मूर्ति समेत कई हस्तियां शामिल हो रही हैं. कॉन्क्लेव के पहले दिन केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) के साथ चर्चा से इसकी शुरुआत की गई. वित्त मंत्री ने भारत को 2030 तक 7 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने की दिशा में उठाए जा रहे कदमों और प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया. 

इंडियन इकोनॉमी के आगे बढ़ा रही सरकार

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर अपने तय किए गए लक्ष्य को पाने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है. उन्होंने आगे का रोडमैप बताते हुए कहा कि सरकार सेंटर, स्टेट से लेकर पंचायत तक कोऑर्डिनेशन बनाकर चल रही है. सभी राज्य केंद्र की पहलों के चलते हमारे प्रयासों के साथ हैं. वे समझ रहे हैं कि कैसे और क्या करना है? टॉप से बॉटम लेवल या केंद्र से लेकर पंचायत स्तर तक सभी सेक्टर में रिफॉर्म्स से हम तय मुकाम को हासिल करने में सफल होंगे.  

मोदी सरकार के कार्यकाल में पारदर्शिता

वित्त मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि PM Modi ने 10 साल में पारदर्शिता के साथ शानदार काम किया और देश की जनता ये जानती है. अपने कार्यकाल में सरकार ने दो तिहाई से ज्यादा काम पूरे किए हैं, जो कि हमने तय किए थे. जब वित्त मंत्री से फ्रीबीज या रेवड़ी कल्चर को लेकर सवाल किया गया, तो वित्त मंत्री ने कहा कि विपक्ष रेवड़ी पर बात करता है और केंद्र सरकार पर आरोप लगाता है. लेकिन सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के जरिए जनता को सुविधाएं मिल रही हैं, जबकि विपक्ष सिर्फ आश्वासन का लॉलीपॉप बांटता रहा है, सुविधाएं नहीं दे पाया.

विपक्ष के आरोपों पर वित्त मंत्री का पलटवार

पांच राज्यों में चुनाव से पहले lPG सिलेंडर के दाम घटाने और लोकसभा चुनाव से पहले बीते दिन गुरुवार को पेट्रोल-डीजल के दाम (Petrol-Diesel Price) 2 रुपये प्रति लीटर कम करने को लेकर विपक्ष के द्वारा इसे चुनाव का बहाना करार देने के आरोपों पर बोलते हुए वित्त मंत्री Nirmala Sitharaman ने कहा कि विपक्ष कह रहा ये चुनावी चाल है और इसलिए ये ऐलान किए जा रहे हैं. लेकिन यह सही बात नहीं है, नवंबर 2021 में जून 2022 में पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी घटाई गई, इसके बाद उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को लाभ देने के लिए गैस सिलेंडर पर छूट दी गई है.  

विपक्ष पर पलटवार करते हुए वित्त मंत्री ने आगे कहा कि चुनाव का बहाना हो या फिर कुछ भी हो, हमें जनता के लिए जो कुछ करना है वो करना है, हम समय नहीं देखते. भले ही इसे बहाना समझा जाए, लेकिन हम जनता के लिए कुछ तो कर रहे हैं. जबकि विपक्ष तो जीतने के बाद भी कुछ नहीं करता. 

विपक्ष के बेरोजगारी के आरोपों पर बोलते हुए वित्त मंत्री ने निशाना साधते हुए कहा कि बेरोजगारी को लेकर विपक्ष आरोप लगा रहा है, लेकिन जहां पर उनकी सरकारें रहीं है, तो उन्हें कुछ इसकी झलक दिखानी चाहिए थी, बस ये घूमते रहते हैं कि भारत को जोड़ो, भारत को न्याय दिलाओ, विपक्ष कही कुछ नहीं करते हैं बस घूमते रहते हैं.

#India #Today #Conclave #कय #कदर #सरकर #भ #बट #रह #ह #रवड #नरमल #सतरमण #न #दय #जवब