Lok Sabha Election: गुजरात में अपने ही उम्मीदवारों का विरोध कर रहे BJP कार्यकर्ता, जानें क्या है डिमांड

0
10

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए साबरकांठा से भिखाजी ठाकोर और वडोदरा से रंजन भट्ट का नाम घोषित किया था लेकिन स्थानीय कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध किया. बाद में बीजेपी ने इन दोनों ही सीटों पर अपने उम्मीदवार बदल दिए. साबरकांठा से शोभना बारैया और वडोदरा से हेमांग जोशी को टिकट दिया गया. बावजूद इसके पार्टी कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं.

गुजरात के साबरकांठा, वडोदरा, सुरेन्द्रनगर, राजकोट, पोरबंदर और वलसाड लोकसभा सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों को कार्यकर्ताओं के विरोध का सामना करना पड़ रहा है. साबरकांठा सीट पर उम्मीदवार बदले जाने का भी विरोध थम नहीं रहा है. शोभना बारैया के पति कांग्रेस के पूर्व विधायक थे, जिन्होंन साल 2022 में BJP जॉइन की थी.

यह भी पढ़ें: Gujarat BJP Candidate List: 14 नए चेहरे, 12 सांसदों को किया रिपीट, बीजेपी की गुजरात लिस्ट ने चौंकाया

शोभना बारैया का हो रहा विरोध

BJP साबरकांठा के कार्यकर्ताओं के मुताबिक, शोभना बारैया को BJP की ऐक्टिव कार्यकर्ता नहीं होने के बावजूद टिकट दिया गया है. वडोदरा बीजेपी ने रंजन भट्ट के रूप में अपना उम्मीदवार तो बदला है लेकिन सावली के विधायक केतन इनामदार के समर्थक उनके विरोध में हैं. वे वॉट्सएप ग्रुप पर ‘I support Ketan Inamdar’ करके एक अभियान चला रहे हैं.

बता दें कि, हेमांग जोशी वडोदरा नगर निगम के स्कूल बोर्ड में वाईस चेयरमैन हैं. सुरेन्द्रनगर लोकसभा से BJP ने चंदूभाई शिहोरा को उम्मीदवार घोषित किया है. चंदूभाई शिहोरा को बाहरी उम्मीदवार बताकर उनका विरोध किया जा रहा है. चंदूभाई शिहोरा मोरबी के हैं और टिकट सुरेन्द्रनगर लोकसभा सीट से दिए जाने पर स्थानीय कार्यकर्ताओं में नाराजगी है.

राजकोट सीट पर परसोत्तम रूपाला का विरोध

राजकोट से BJP ने परसोत्तम रूपाला को उम्मीदवार बनाया है. चुनाव प्रचार के दौरान वाल्मीकि समाज के कार्यक्रम में परसोत्तम रूपाला द्वारा रजवाड़ों पर की गई टिप्पणी को लेकर क्षत्रिय समाज में नाराजगी शुरू हुई है. परसोत्तम रूपाला अपने विवादित बयान को लेकर माफी भी मांग चुके हैं. हालांकि, क्षत्रिय समाज का विरोध जारी है और उम्मीदवार बदलने की मांग उठ रही है.

यह भी पढ़ें: ‘गुजरात मेरी जन्मभूमि और बंगाल मेरी कर्मभूमि’ बहरामपुर में बोले TMC कैंडिडेट यूसुफ पठान

मनसुख मांडवीया के खिलाफ लगे पोस्टर

पोरबंदर से BJP ने केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडवीया को उम्मीदवार बनाया है लेकिन बाहरी उम्मीदवार बताकर मनसुख मांडवीया के खिलाफ भी पोस्टर लगाए गए हैं. इस पोस्टर में कांग्रेस के उम्मीदवार ललित वसोया का भी फोटो है. पोस्टर के जरिए कहा गया है कि अगले पांच साल अपना काम कौन करेगा? पोरबंदर लोकसभा में स्थानीय उम्मीदवार चाहती है. 

‘वोटरों के बीच अगले पांच साल कौन रहेगा?’ इस तरह के पोस्टर पर ललित वसोया ने कहा कि, BJP के नाराज कार्यकर्ताओं ने पोस्टर लगाए हैं तो BJP में इन पोस्टर लगाने के पीछे ललित वसोया को जिम्मेदार ठहराया है. हालांकि, सूत्रों की मानें तो मनसुख मांडवीया के खिलाफ पोस्टर BJP के कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए जाने की बात कही जा रही है.

वलसाड में धवल पटेल के खिलाफ कार्यकर्ता

वलसाड लोकसभा से BJP ने धवल पटेल को उम्मीदवार बनाया है लेकिन धवल पटेल के खिलाफ पत्रिका वायरल करने के बाद अब बैनर लगाए गए हैं. पत्रिका और बैनर के जरिए BJP के उम्मीदवार को बदलने की मांग हो रही है. BJP के अध्यक्ष जेपी नड्डा और पीएम मोदी के नाम पत्र लिखकर कहा गया है कि, उम्मीदवार बदला जाए वरना वलसाड और नवसारी में अच्छे परिणाम नहीं मिलेंगे. हालांकि, बीजेपी ने साफ कर दिया है कि उम्मीदवार नहीं बदला जाएगा.

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल को 6 दिन तक की ED रिमांड, गुजरात के कई शहरों में AAP का प्रदर्शन

26 सीटों पर बीजेपी ने उतारे अपने उम्मीदवार

बता दें कि गुजरात की तमाम 26 सीट पर BJP ने अपने उम्मीदवार घोषित किए हैं. कांग्रेस 24 सीट पर लड़ रही है जिसमें से 17 सीट पर उम्मीदवार घोषित किए हैं. अभी 7 सीट पर कांग्रेस को उम्मीदवार घोषित करने हैं. बाकी की दो सीट भरूच और भावनगर लोकसभा पर आम आदमी पार्टी से कांग्रेस ने गुजरात में गठबंधन किया हुआ है.

#Lok #Sabha #Election #गजरत #म #अपन #ह #उममदवर #क #वरध #कर #रह #BJP #करयकरत #जन #कय #ह #डमड